Sunday, July 14, 2013

कोख में ही बच्चे का सौदा!

कोख में ही बच्चे का सौदा!

Posted On July - 13 - 2013
सुरेंद्र मेहता/हमारे प्रतिनिधि
यमुनानगर में शनिवार को मीडिया से रूबरू होती महिला। -हप्र
यमुनानगर, 13 जुलाई। यमुनानगर के गांव बूडिय़ा में रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना में खुद को ‘मजबूर’ बताने वाली मां ने अपने अजन्मे बच्चे का कोख में ही सौदा कर डाला। उसने 8 मास के अपने अजन्मे बच्चे को बेचने के लिए विभिन्न साधनों से प्रचार किया। मामला उपायुक्त के दरबार पहुंचा तो उन्होंने जांच के आदेश जारी कर दिए। उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक इस मामले की हर पहलू से जांच करेंगे।
यह मामला यमुनानगर के गांव बूडिय़ा का है। वहां की एक महिला अपने को ‘मज़बूर’ बताते हुए अपनी कोख का ‘सौदा’ कर रही है। उसने 8 मास के अजन्मे बच्चे की विभिन्न साधनों से प्रचार करके ‘नीलामी’ शुरू कर दी है। महिला का कहना है कि उसने अपने मां-बाप व भाइयों से कर्ज लिया था। वह बुरी तरह से कर्ज के तले दब चुकी है और किराए के मकान में रहती है। घरों में बर्तन साफ करने का काम कर रही यह महिला इस संबंध में तर्क दे रही है कि उसके पास तीन लड़के हैं, उनका पालन-पोषण वह नहीं कर पा रही है। अपनी अजन्मी चौथी संतान को बेचकर वह अपना व अपने तीन बच्चों का भविष्य सुखद करना चाहती है।
वह चाहती है कि उसे इतना रुपया मिल जाए कि वह कर्ज उतारने के बाद अपना मकान बनाकर अपने तीन लड़कों को ठीक तरीके से पाल सके। अखबारों में छपे विज्ञापन के माध्यम से उसके पास कई फोन कॉल भी आई हैं। उसका कुछ लोगों से ‘सौदा’ इसलिए टूटने लगा कि कीमत कम मिल रही है। उसे मालूम हो गया है कि बे-औलाद किसी भी कीमत पर औलाद पाना चाहते हैं। इस महिला का पंजाब के बठिंडा में एक व्यक्ति से 6 लाख में सौदा तय हो गया था, लेकिन बाद में बठिंडा निवासी इस व्यक्ति ने संदेह जताते हुए पुलिस में शिकायत कर दी।पुलिस में शिकायत होने के बाद महिला कैमरे के सामने भी आई है और उसने कहा है कि उसे सौदा होने के बाद आशा की एक किरण नजर आई थी। लेकिन मामला पुलिस प्रशासन में जाने से वह हताश है।
महिला का कहना है कि अभी तक उम्मीद है कि किसी न किसी के साथ उसका यह सौदा ज़रूर हो जाएगा। उसका कहना है कि वह कोई अपराध नहीं कर रही। अपनी कोख पर उसका अधिकार है और वह उसे बेच रही है।

No comments:

Post a Comment