Saturday, April 13, 2013

मध्यावधि चुनावों की घोषणा कभी भी : रामबिलास शर्मा

मध्यावधि चुनावों की घोषणा कभी भी : रामबिलास शर्मा

Posted On April - 12 - 2013
यमुनानगर, 12 अप्रैल (हप्र)। देश में मध्यावधि चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है और घोषणा होते ही राज्य की सभी दसों लोकसभा सीटों के प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जायेगी। हजकां-भाजपा गठबंधन के बैनर तले यह चुनाव लड़ा जायेगा। यह जानकारी हरियाणा भाजपा अध्यक्ष रामबिलास शर्मा ने यमुनानगर के बस स्टैंड के पास उनके स्वागत में उमड़े जनसमूह को संबोधित करने से पहले पत्रकारों से बातचीत करते हुए दी।
उन्होंने कहा कि गठबंधन चुनावों के लिए पूरी तरह तैयार है और उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया भी जारी है। उन्होंने दावे के साथ कहा कि राज्य की सभी दसों सीटों पर हजकां-भाजपा गठबंधन का कब्जा होगा। श्री शर्मा ने यह भी दावा किया कि राज्य में भी कांग्रेस सरकार की उल्टी गिनती आरंभ हो चुकी है और इसी के डर के चलते ही अब निगम कार्पोरेशनों के चेयरमैनों की नियुक्ति की गई है और मंत्रीमंडल के फेरबदल की भी तैयारी की जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार के अनेक मंत्रियों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं लेकिन उन्हें सलाखों के पीछे बंद करने की बजाय सरकार उन्हें बचाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि गठबंधन की सरकार बनने पर दोषियों को सलाखों के पीछे बंद किया जायेगा।
एक प्रश्र के उत्तर में श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेसियों को तो अब रात को भी नरेंद्र मोदी एवं सुषमा स्वराज नजर आते हैं। नगर निगम चुनाव बारे पूछे गये सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पार्टी यह चुनाव अपने चिन्ह पर लड़ेगी।

रसीदों में हेराफेरी कर लाखों रुपये हड़पे



Posted On April - 13 - 2013
यमुनानगर, 12 अप्रैल (हप्र)। रसीदों में कथित हेराफेरी कर बिजली कर्मचारियों ने लाखों रुपये हड़प लिए। दोषी पाए जाने पर पुलिस ने कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी करने व अमानत में ख्यानत करने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया। मामले में अभी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार उत्तरी हरियाणा बिजली वितरण निगम सब डिविजन (आइटीआई) सर्कल के एसडीओ राजेंद्र कुमार ने फर्कपुर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कुछ दिन पहले उन्हें सूचना मिली थी कि सब डिविजन कार्यालय में जमा हो रहे बिलों की रसीदों में हेराफेरी करके कुछ कर्मचारी विभाग को नुकसान पहुंचा रहे हैं।  सूचना के आधार पर बिलों की रसीदों की जांच की गई तो उनमें आठ लाख 66 हजार 353 रुपये की गड़बड़ी पाई गई। जांच करने पर कार्यालय में तैनात संबंधित कर्मचारियों बलविंद्र सिंह, पवन कुमार व गौरव द्वारा रसीदों में हेराफेरी करके पैसे हड़पने का दोषी पाया गया। जिसके बाद उन्होंने आरोपियों के खिलाफ पुलिस को शिकायत दी।
फर्कपुर पुलिस ने एसडीओ राजेंद्र कुमार की शिकायत पर उक्त तीनों बिजली कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी करने व अमानत में ख्यानत करने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया।
वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्य काबू :  पुलिस ने वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर चोरी किए गए पांच ट्रैक्टरों सहित सात वाहन बरामद किए हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान को अभी गोपनीय रखा गया है।
पुलिस प्रवक्ता तेजबीर सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक मितेश जैन के आदेशानुसार कुछ दिन पहले जिले में वाहन चोरी की वारदातों के आरोपियों को पकडऩे के लिए वाहन चोरी निरोधक दस्ता (एवीटी सैल) को आरोपियों को पकडऩे की जिम्मेदारी दी गई थी। जिस पर वाहन चोरी निरोधक दस्ता ने सूचना के आधार पर पुख्ता सबूत मिलने पर देर शाम वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्यों को पकडऩे में सफलता मिली

Wednesday, April 10, 2013

यमुनानगर में नामधारियों के गुरुद्वारे में तनाव


यमुनानगर में नामधारियों के गुरुद्वारे में तनाव

Posted On April - 9 - 2013
सुरेंद्र मेहता/हमारे प्रतिनिधि
यमुनानगर में गुरुद्वारे के बाहर गेट पर तैनात पुलिस बल व अधिकारी और लोगों के बीच घिरे हुए नामधारी संप्रदाय के गुरु ठाकुर दलीप सिंंह। -हप्र
यमुनानगर, 9 अप्रैल । यमुनानगर के नामधारी गुरुद्वारे में गद्दी को लेकर विवाद अब काफी तूल पकड़ता जा रहा है और पंजाब से आए एक संत के गुरुद्वारे में जाने से बढ़े विवाद में थप्पड़ मुक्के चलने के बाद तनाव बढ़ता देख पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा है। अगर जिला के आला अधिकारी समय रहते वहां नहीं पहुंचते तो एक बड़ी अनहोनी होने की लोगों को आशंका थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार नामधारी गुरुद्वारे में गद्दी के स्थान व जायदाद को लेकर दो गुट बने हुए हैं। यहां पर विरोध का सामना कर रहे पंजाब से आये नामधारियों के गुरु ठाकुर दलीप सिंह को सुरक्षा प्रदान करने के बाद मामला शांत हुआ। इस संबंध में डीएसपी यमुनानगर अशोक सभ्रवाल ने बताया कि विश्वकर्मा मोहल्ले में स्थित नामधारी गुरुद्वारे में ही एक गुट ऐसा उभर चुका है, जो गुरुद्वारे की गद्दी व जायदाद हथियाने के लिए पंजाब के लुधियाना से आने वाले नामधारी ठाकुर दलीप सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल चुका है। यह मुद्दा देखते ही देखते शहर में फैल गया और जब तनाव बढ़ गया तो वहां पर एसडीएम राजनारायण कौशिक व डीएसपी बिजेंद्र सिंह आदि वहां पहुंचे व नामधारी ठाकुर दलीप सिंह को सुरक्षा के लिए घेरे में ले लिया।भीड में से बचाकर उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। नामधारी संप्रदाय के गुरु ठाकुर दलीप सिंह को मीडिया से भी दूर रखा गया। उन्होंने जाते-जाते केवल यही कहा कि इस समय जो प्रशासन चाहता हैं, वही उचित है। पुलिस ने फिलहाल किसी प्रकार का मुकदमा दर्ज नहीं किया है।

Tuesday, April 9, 2013

‘महिलाएं खुद जागें और औरों को भी जगाएं’


‘महिलाएं खुद जागें और औरों को भी जगाएं’

Posted On April - 9 - 2013
गुरु नानक खॉलसा कॉलेज मेंं आयोजित कार्यक्रम मेेंं सीजेएम एवं जिला कानूनी सेवाएं प्राधिकरण के सचिव जयवीर सिंह का अभिनंदन करते हुए कॉलेज प्राचार्या डॉ. विरेन्द्र कौर। -हप्र
यमुनानगर, 8 अप्रैल (हप्र)। जमना ऑटो इंडस्ट्रीज के सामाजिक सरोकार इकाई (सीएसआर) तथा गुरु  नानक खालसा कॉलेज के  महिला प्रकोष्ठ की ओर से पिछले एक माह से अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस को समर्पित कार्यक्रमों का विधिवत् रूप से समापन हो गया। मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में सीजेएम एवं जिला कानूनी सेवाएं प्राधिकरण के सचिव जयवीर सिंह उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता गुरु नानक खालसा शिक्षण संस्थाओं की अभिभाविका एवं प्रथम महिला खेम कौर जौहर ने की। विद्वान अतिथि के रूप में कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र के विधि विभाग की प्रोफेसर डॉ. सुमन गुप्ता उपस्थित थी। कॉलेज के गान और द्वीप प्रज्वलित करके हुए इस समारोह के दौरान महिला की दुर्दशा, दिशा, स्थिति और समाधान पर दो लघु फिल्मों का भी प्रदर्शन किया गया जिसे देखकर सभी भाव विह्वल हो गए।
कॉलेज की प्राचार्या डॉ. विरेन्द्र कौर ने मुख्य अतिथि, विद्वान अतिथि व अन्य का अभिनंदन करते हुए कॉलेज की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी और कहा कि कॉलेज का महिला प्रकोष्ठ कॉलेज की छात्राओं को कानूनी साक्षरता और सेवाएं उपलब्ध करवाने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है ताकि छात्राएं पढऩे-लिखने के साथ-साथ सशक्त, समर्थ और स्वाभिमानी बन सके। मौके पर कॉलेज की महिला प्रकोष्ठ की संयोजिका डॉ. दलजीत कौर ने मुख्य अतिथि, विद्वान अतिथि का परिचय करवाते हुए प्रकोष्ठ की गतिविधियों से सभी को रूबरू करवाया।
सीजेएम एवं जिला कानूनी सेवाएं प्रधिकरण के सचिव श्री जयवीर सिंह ने कहा कि अब वक्त आ गया है जब महिलाएं खुद जागें और औरों को भी जगाएं अन्यथा 16 दिसम्बर वाले भयानक क्रूरतम और जघन्य अपराध होते रहेंगे। न कानून कुछ कर सकेंगे और हम और आप इसलिए अच्छा है कि हम स्वयं ही जागें और अपनी जिंदगी, समाज और राष्ट्र से अज्ञानता का अंधेरा समाप्त करें। उन्होंने उपस्थित लोगों से कहा कि वह जहां अपने बच्चों को महिलाओं का मान-सम्मान करने के संस्कार दें वही लड़कियों को आत्मनिर्भर और आत्म सुरक्षा के बारे में जानकारी दें ताकि परिवारिक भेदभाव समाप्त हो सके। जमना ऑटो इंडस्ट्रीज की सामाजिक सरोकार इकाई की प्रभारी सुश्री संयम मराठा ने महिला सशक्तीकरण एवं महिला कानून व अधिकारों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करते हुए सभी लोगों का धन्यवाद किया। श्रीमती खेम कौर जौहर ने सीजेएम एवं जिला कानूनी सेवाएं प्रधिकरण के सचिव जयवीर सिंह और प्रोफेसर सुमन गुप्ता को तथा कॉलेज की प्राचार्या डॉ. विरेन्द्र कौर ने सुश्री संयम मराठा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

Wednesday, April 3, 2013

ज्ञापन देने बंद, अब उतरेंगे सड़कों पर : दिलबाग सिंह


ज्ञापन देने बंद, अब उतरेंगे सड़कों पर : दिलबाग सिंह

Posted On April - 3 - 2013
यमुनानगर जिला सचिवालय में अतिरिक्त उपायुक्त से सड़कों की समस्याओं को लेकर बातचीत करते यमुनानगर एवं रादौर के विधायक। छाया : हप्र
यमुनानगर, 2 अप्रैल (हप्र)। विपक्षी विधायक अब उपायुक्त व अन्य अधिकारियों के पास जनता की समस्याओं को हल करवाने के लिए नहीं जाएंगे बल्कि संघर्ष का रास्ता अपना कर खुद बैठेंगे और न प्रशासन को बैठने देंगे। बार-बार ज्ञापन देने के बावजूद आज तक एक भी समस्या का समाधान नहीं किया गया है। यह कहना है यमुनानगर से इनेलो विधायक दिलबाग सिंह का, जो अतिरिक्त उपायुक्त को समस्याओं संबंधित ज्ञापन देने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उनके साथ पार्टी के जिलाध्यक्ष एवं विधायक डा. बीएल सैनी, पूर्व विधायक बलवंत सिंह, पूर्व विधायक रामजी लाल मुख्य रूप से उपस्थित थे।
उन्होंने कहा कि न तो विधानसभा में उन्हें बोलने का मौका दिया जाता है और न ही जिला प्रशासन विकास कार्यों को करवा रहा है। जिस कारण जिले की जनता का जीवन दूभर हो गया है। उन्होंने बताया कि बार-बार उपायुक्त से समय लेने के बावजूद उपायुक्त कार्यालय में उपस्थित नहीं होते हैं। उन्होंने कहा कि अब वह ज्ञापन देने बंद कर लोगों के सहयोग से सड़कों पर आकर प्रदर्शन करेंगे।
अतिरिक्त उपायुक्त डा. सतबीर सिंह सैनी को सौंपे ज्ञापन में विधायक ने रोष जताते हुए कहा कि सड़कों की हालत इतनी खस्ताहाल हो चुकी है कि वाहनों का गुजरना मुश्किल हो गया है। सड़कों पर गड्ढों की भरमार होने से आए-दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। प्रदर्शनकारियों में उपस्थित पार्षदों ने नगर निगम क्षेत्र की सफाई व्यवस्था के प्रति नाराजगी जताते हुए कहा कि नालियों की नियमित रूप से सफाई नहीं की जा रही है और लगभग हर वार्ड में कई-कई दिनों तक कूड़ा नहीं उठाया जाता है। अतिरिक्त उपायुक्त डा. सतबीर सिंह सैनी ने प्रदर्शकारियों को आश्वासन दिया कि सड़क और सफाई व्यवस्था जल्द ही सुधर जाएगी।इस अवसर पर दुर्गा प्रसाद मिश्रा, बीके मेहता, पूर्व पार्षद अशोक शर्मा, दलमीरा राम सैनी, सुरेश शर्मा, गुरप्रीत चावला मुख्य रूप से उपस्थित थे।