Saturday, June 25, 2011

यमुनानगर में गिराए धार्मि· स्थल

दूसर दिन भी गिराए धार्मि· स्थल

हाइेह्ले ·िनार बने शिेह्ल ेह्ल देेह्ली मंदिर ·ो गिराया

आज भी जारी रहेगी ·ार्रेह्लाई

लोगों ·ी भीड़ ·ो देखते हुए ेिह्लभाग ने अल सुबह ·ी ·ार्रेह्लाई

 हाइेह्ले ·िनार अति·्रमण ·र बनाए गए धार्मि· स्थलों ·ो गिराने ·ा सिलसिला शनिेह्लार ·ो दूसर दिन भी जारी रहा। ेिह्लभाग ने शु·्रेह्लार ·ो जमा हुई लोगों ·ी भीड़ ·ो देखते हुए शनिेह्लार ·ो एनएचएआई ने सुबह छह बजे अपनी ·ार्रेह्लाई ·ो अंजाम दिया। सुबह ेिह्लभाग ने जेसीबी ·ी मदद से सहारनपुर रोड पर लाल ·ोठी ·े बाहर बने शिेह्ल मंदिर ेह्ल शुगर मिल ·े समीप स्थित देेह्ली मंदिर ·ो गिरा दिया गया। इस दौरान ·ुछ लोगों ने अपना ेिह्लरोध दर्ज ·िया, ले·िन भारी पुलिस बल होने ·े ·ारण ेह्लह लोग ·ुछ नहीं ·र पाए। ेिह्लभाग ·ी यह ·ार्रेह्लाई अभी आगे भी जारी रहेगी।

हाइेह्ले ·िनार अेह्लैध रूप से बनाए गए जिले ·े ·ुल १२ धार्मि· स्थलों ·ो गिराने ·े लिए चयनित ·िया गया था। शु·्रेह्लार ·ो ेिह्लभाग ·े अधि·ारियों ने पांच धार्मि· स्थलों ·ो गिराया था। शनिेह्लार ·ी सुबह नेशनल हाइेह्ले अथारिटी द्वारा सहारनपुर मार्ग पर ट्रांसपोर्ट नगर ·े सामने बने ेह्लर्षो पुराने शिेह्ल शक्ति मंदिर ·ो गिराया गया। मंदिर ·ो गिराते समय ·ुछ लोगों द्वारा इस·ा ेिह्लरोध भी ·िया गया। मंदिर ·ो गिराने ·ा ेिह्लरोध ·रने ेह्लालों में सुमित गेरा, रमन ·ालडा, देेह्लेंद्र, सोनू गेरा, हरभजन, टे· चंद ेह्ल अन्य लोगों ने बताया ·ि मंदिर ·ो गिराते समय श्रद्धालुओं द्वारा ए· दिन ·ा समय मांगा गया था, ता·ि ेह्लह मंदिर में स्थापित मूर्तियों ·ो सुरक्षित र ा स·ें, ·िंतु ेिह्लभाग ने उन·ी नहीं मानी और सीधे मंदिर ·ो गिरा दिया। उन्होंने ·हा ·ि ेह्लैसे तो शनिेह्लार ·ो सभी ेिह्लभागीय अधि·ारी छूट्टी ·े ·ारण ·ोई ·ाम नहीं ·रते ेह्लहीं मंदिर ·ो गिराने हेतु सुबह-सुबह ही सभी अधि·ारी पहुंच गए। इसी प्र·ार सरसेह्लती शुगर मिल ·े पास स्थित ेह्लर्षो पुराने देेह्ली मंदिर ·ो भी जेसीबी मशीन ·े द्वारा गिराया गया। मंदिर ·े सेेह्ल· सुरश ने बताया ·ि इस·े लिए ·ल भी ेिह्लभाग ·ी ओर से ·ुछ लोग आए थे, ·िंतु श्रद्धालुओं ·ी भीड़ दे ा·र ेह्लह ेह्लापस लौट गए। ेह्लहीं आज सुबह छह बजे आ·र टीम ने मंदिर ·ो गिरा दिया। उसने बताया ·ि यह मंदिर १९५० से पहले ·ा बना है। लगभग ए· घंटे त· चली इस ·ार्रेह्लाई ·े दौरान पुलिस बल समेत नेशनल हाइेह्ले आथारिटी ·े अधि·ारी ेह्ल ·ई ·र्मचारी मौजूद थे।

नहीं दि ाा ट्र·ों ·ा अति·्रमण

ेिह्लभाग ·ी इस ·ार्रेह्लाई ·े दौरान ·ई दु·ानों ·े अति·्रमण ेह्ल धार्मि· स्थलों ·ो हटाया गया, ·िंतु ेिह्लभाग ·ो एनएच-७३ पर जोडिया ना·े से पांसरा मार्ग ·े बीच दोनों ओर ाड़े हजारों ट्र· दि ााई नहीं दिए। लोगों ·ा ·हना है ·ि ेिह्लभाग द्वारा लोगों ·ो निजात दिलाने ·े लिए चलाई जा रही इस ·ेह्लायद में धार्मि· स्थल ेह्ल अति·्रमण ·ो तो हटा दिया गया। ·िंतु यहां ाड़े ट्र·ों ·ो अनदे ाा ·र दिया गया। जब·ि सबसे अधि· आेह्लाजाही ·ी समस्या इनसे ही होती है।

फोटो सं या:-२०, २१ ेह्ल २२

·ैप्शन:-२० ेह्ल २१:-हाइेह्ले पर लाल ·ोठी ·े बाहर बने शिेह्ल मंदिर ·ा तोड़े जाने ·े बाद बिखरा पड़ा मलेह्ला।

२२:-मंदिर तोड़े जाने ·े बाद उस·ा बिजली ·ा मीटर उठा·र ले जाते श्रद्धालु।

Saturday, June 18, 2011

यमुनानगर पहुंची फैमिना मिस इंडिया 2011

यमुनानगर पहुंची फैमिना मिस इंडिया 2011
यमुनानगर, 18 जून । भ्रष्टïाचार रूपी जड़े देश ·ो खोखला ·रती जा रही है ऐसे में बाबा रामदेव एवं अन्ना हजारे द्वारा आरंभ ·िया गया संघर्ष ए· दिन अवश्य रंग लायेगा और मेरा समर्थन एंव सहयोग उन·े साथ है। यह ·हना है फैमिना मिस इंडिय़ा 2011 फाइनलिस्ट डा. ज्योतप्रिय सूद ·ा जो स्थानीय निफ्ट सैंटर में डिजाईन पैड ·ा उद्घाटन ·रने ·े बाद पत्र·ारों से बातचीत ·र रही थी। उन्होंने ·हा ·ि भ्रष्टïाचार ·ो समाप्त ·रने ·ो ले·र सबसे पहले हमें अपने में बदलाव लाना होगा और तभी इसमें ·ामयाबी मिल स·ती है। उन्होंने ·हा ·ि डिजाईन पैड डिजाइनिंग ·े विद्यार्थियों ·े लिए बेहतर साबित होगी। विद्यार्थियों ·ो क्लास रूम में ·िताबें व अलग से पाठ्य·्रम ले·र आने ·ी जरूरत नही होगी। डिजाईन पैड में संपूर्ण पाठ्य·्रम, नेट ·ी सुविधा व विषय से जुड़ी आधुनि· जान·ारियां उपलब्ध होंगी। सुश्री सूद ने बताया ·ि डिजाइन पैड ए· आधुनि· मशीन है और सत्र 2011 ·े सभी फेशन, डिजाइनिंग, इंटिरियर डिजाइनिंग व एमबीए मैनेजमेंट ·े विद्यार्थियों ·ो दी जाएगी जिससे विद्यार्थियों ·े अंदर ए· नई प्रतिभा ·ा वि·ास होगा। उन्होंने बताया ·ि इनिफ्ड विश्व ·ा सबसे बड़ा संस्थान है जो ·ि दो लाख से अधि· विद्यार्थियों ·ो फेशन ·ी दुनिया में ला चु·ा है। प्रति वर्ष 20 हजार से अधि· विद्यार्थी फेशन ·ी दुनिया से जुड़ रहे हैं। 
डाक्टर से फेशन ·े क्षेत्र में उतरी सुश्री सूद ने ए· प्रश्र ·े उत्तर में बताया ·ि ए· चि·ित्स· ·े रूप में तो वह मानव सेवा ·ो समर्पित रहेगी ही साथ फैशन-डिजाइनिंग ·े क्षेत्र में ·ैरियर तलाश रही प्रतिभाओं ·ो तरासने ·ा भी ·ार्य ·रेगी। हाल ही में उसने बीडीएस ·ी डिग्री ली है, ले·िन माडलिंग ·े क्षेत्र में आना उन·ी प्रबल इच्छा थी। उन्होंने शरीर ·ी सुंदरता व दिमाग ·ी सुंदरता ·ो ए· सिक्के ·े दो पहलु बताया। अच्छे व्यक्तित्व ·े लिए दोनों गुणों ·ा होना अनिवार्य है।
निफ्ट सेंटर ·ी डायरेक्टर सीमा ·थूरिया ने बताया ·ि संस्थान द्वारा पिछले 15 वर्षो से बच्चों ·ो फैशन डिजाईन ·ी शिक्षा प्रदान ·ी जा रही है। उन्होंने ·हा ·ि डिजाईन पैड से निश्चित ही छात्रो ·ो लाभ होगा ओर घर बैठे उन्हें अंतर्राष्टï्रीय स्तर ·ी फैशन डिजाईन से संबन्धित जान·ारी हासिल होगी।

Friday, June 17, 2011

·ड़ी सुरक्षा ·े बीच हुई लघु ाानों ·ी नीलामी


्रठे·ेदारों ने ाुल·र लगाई बोली

बेलगढ़ ाान छुटी सबसे महंगी

यमुनानगर। ानन ·े लिए ३७ लघु ाानों ·ी बोली ·ड़ी सुरक्षा ·े बीच हुई। इस दौरान भारी पुलिस बल मौ·े पर तैनात रहा।

बोली ·ी संपूर्ण प्र·्रिया डीसी अशो· सांगेह्लान ·ी उपस्थिति में हुई। इस दौरान ठे·ेदारों ने दिल ाोल·र बोली लगाई। फतेहगड़, ·लेसर, बीबीपुर, ढोइेह्लाला, झंडा, ठस·ा हसनगढ़, पीपलीमाजरा ेह्ल लापरा ·ी ाान ·ो ारीददार नहीं मिला जब·ि बेलगढ़ ाान ·ी बोली सबसे महंगी हुई।बेलगढ़ ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ए· ·रोड़ ६८ ला ा ४५ हजार थी, इस ाान ·े चाहने ेह्लालों में इतना उत्साह दे ाा गया ·ि बोली छह ·रोड़ २५ ला ा दा ेहजार पर जा·र रु·ी। दूसर नंबर पर बहादुपर और तीसर नंबर पर मांडेेह्लाला ·ी ाान रही। बहादुरपुर ·ी ाान ४ ·रोड़ ६९ में नीलामी हुई। मांडेेह्लाला ाान ·े लिए रिर्जेह्ल राशी ६५ ला ा १४ हजार रुपए थी और बोली ४ ·रोड़ ३२ ला ा पर जा·र रु·ी। इसी प्र·ार रामपुर नाला ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ९२ हजार और नीलामी १७ ला ा २५ हजार में हुई। ·ाठगड़ ·े लिए रिर्जेह्ल राशी १२ ला ा ५७ हजार और नीलामी ए· ·रोड़ दो ला ा में हुई। ·ोटला ·ी रिजेह्र्ल राशी ८२ हजार और नीलामी २१ ला ा २० हजार में हुई। धनौरा ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ए· ला ा ७८ हजार और नीलामी ए· ·रोड़ २ ला ा में हुई। नंदगढ़ ·े लिए रिजेह्र्ल राशी आठ ला ा ८६ हजार और नीलामी १७ ला ा ३० हजार में हुई। चुहड़पुर ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ६५ ला ा ३१ हजार थी और नीलामी ४ ·रोड़ ए· ला ा में हुई। इसी प्र·ार जैधर ·ी रिजेह्र्ल राशी तीन ला ा १५ हजार और नीलामी २१ ला ा ५० हजार में हुई। बेलगढ़ ·ी रिजेह्र्ल राशी ए· ·रोड़ ६८ ला ा ४५ हजार थी और नीलामी छह ·रोड़ २५ ला ा दो हजार में हुई। मान·पुर ·ी रिजेह्र्ल राशी पांच ला ा ४२ हजार और नीलामी ३५ ला ा छह हजार में हुई। भीलपुर ·ी रिजेह्र्ल राशी ६५ ला ा ८४ हजार और बोली १ ·रोड़ ७० ला ा में हुई। रठौली ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ९२ हजार और नीलामी ११ ला ा ए· हजार में हुई। संधोली ·े लिए रिजेह्र्ल राशी तीन ला ा ९६ हजार और नीलामी १५ ला ा में हुई। नेह्लाजपुर ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ८१ ला ा १४ हजार और नीलामी २ ·रोड़ २० हजार में हुई। मांडेेह्लाला ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ६५ ला ा १४ हजार और नीलामी ४ ·रोड़ ३२ ला ा में हुई। नगली ·ी नीलामी ९० ला ा ७० हजार में हुई। प मुेह्लाला ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ए· ला ा ३२ हजार और नीलामी १० ला ा छह हजार में हुई। सालेपुर ाान ·े लिए रिजेह्र्ल राशी तीन ला ा १५ हजार और नीलामी ११ ला ा में हुई। मंडोली घग्गर ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ८९ ला ा ९५ हजार और नीलामी दो ·रोड़ २० ला ा में हुई। ·नालसी ·ी ाान ·े लिए रिजेह्र्ल राशी ७९ ला ा ६२ हजार और नीलामी १ ·रोड़ ४१ ला ा में हुई। मांडेेह्लाला ·े लिए रिजेह्र्ल राशि ६५ ला ा १४ हजार और नीलामी चार ·रोड़ ३२ ला ा में हुई। बहादुरपुर लघु ाान ·े लिए रिजेह्र्ल राशि ५० ला ा ७० हजार ेह्ल नीलामी चार ·रोड़ ६९ ला ा में हुई। मजैदेह्लाला ाान ·ी रिजेह्र्ल राशि ७४ ला ा ५६ हजार ेह्ल नीलामी दो ·रोड़ ३० हजार में हुई। भगेह्लानपुर ·ी रिजेह्र्ल राशि ए· ला ा ९७ हजार ेह्ल नीलामी ४२ ला ा १० हजार में हुई। जयरामपुर जगीर ाान ·ी नीलामी ए· ·रोड़ छह ला ा में हुई। रसूलपुर ाान ·ी नीलामी ६० ला ा छह हजार में हुई। दादूपुर रिेह्लर सोम ·े लिए रिजेह्र्ल राशि ३८ ला ा ९५ हजार ेह्ल नीलामी ५० हजार में हुई। जयधर ·े लिए रिजेह्र्ल राशि तीन ला ा १५ हजार ेह्ल नीलामी १६ ला ा २५ हजार में हुई। इसी प्र·ार रामपुर सोमनदी ाान ·ी रिजेह्र्ल राशि ६७ ला ा २६ हजार रुपए र ाी गई थी, जब·ि नीलामी ७० ला ा १० हजार में हुई।

फोटो सं या:-१९ से २२ त·

·ैप्शन:-१९:-बोली ·े समय मौ·े पर मौजूद अधि·ारी।

२०:-बोली देने ·े लिए जमा हुए लोग।

२१:-·िसी भी अप्रिय घटना से निपटने ·े लिए तैयार पुलिस बल।

२२:-बोली स्थल पर जाने ेह्लाले रास्ते पर लगाया गया पुलिस ना·ा।

Thursday, June 16, 2011

बिजली ·ी हाईटेंशन तारों ·ी चपेट में आने से दो मजदूर झुलसे

सुरेन्द्र मेहता / हमारे प्रतिनिधि
 बिजली ·ी हाईटेंशन तारों ·ी चपेट में आने से दो मजदूर झुलस गए जिनमें ए· ·ी हालत गंभीर होने पर उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर ·र दिया गया। उधर, इस हादसे ·े बाद ·ई घरों में बिजली ·ा सामान भी जल ·र राख हो गया। बताया जाता है ·ि हरबंसपुरा ·ालोनी में सुखदेव सिंह ·े घर में निर्माण ·ार्य चल रहा था। इस दौरान मजदूर इस ·ालोनी में पहले से बने म·ान ·ी छत पर ·ार्य ·र रहे थे ·ि वहां से गुजर रही हाईटेंशन तारों ने दो मजदूरो ·ो अपनी चपेट में ले लिया। अचान· हुए हादसे से वहां ·ार्यरत्त अन्य मजदूर भी ·ुछ नहीं ·र स·े और ·ुछ ही पल में दोनों बुरी तरह झुलस गए। तुरंत दोनों ·ो अस्पताल ले जाया गया जहां ए· मजदूर ·ी हालत ज्यादा चिंताजन· होने पर उसे पीजीआई चंडीगढ़ भेज दिया गया। दूसरा झुलसा मजदूर नीजि हस्पताल में उपचाराधीन है। यमुनानगर में हाईटेंशन तारों ·ी चपेट में आने ·ा यह पहला मामला नहीं है इससे पहले ·ई लोग इन·ी चपेट में आ·र अपनी जान गंवा चु·े हैं। इस·े बावजूद इन्हे हटाने ·ो ले·र ·ोई प्रयास नहीं ·िया जा रहा। इस हादसे ·े चलते ·ई घरों में बिजली ·े उप·रण जल गए। ·ई ·े तो बिजली ·े मीटर व टीवी भी जल गए हैं इन पीडितों ·ा ·हना है ·ि अ·सर इस प्र·ार ·े हादसें होते हैं ले·िन इस और ·ोई ·ार्रवाही नहीं ·ी जाती। उधर जांच अधि·ारी जोगिन्द्र सिंह ·ा ·हना है ·ि उन्हे सूचना मिली थी ·ि हाईटेंशन तारों ·ी चपेट में आने से दो लोग झुलस गए हैं। वह तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया ·ि ए· मजदूर ·ी हालत ज्यादा गंभीर है इसलिए उसे पीजीआई चंडीगढ़ भिजवाया गया है जब·ि दूसरे ·ा ईलाज गाबा हस्पताल में चल रहा है। वहीं बिजली अधि·ारियों ·ा ·हना है ·ि बिजली ·ी हाईटेंशन तारें पहले बिछाई गई और म·ान लोगों ने बाद में बनाये हैं। जहां हाईटेंशन तारें होती हैं वहां लोगो ·ो सस्ती दरो पर जगह मिल जाती है इसलिए अपनी जान ·ी परवाह न ·रते हुए ये लोग यहां म·ान बना लेते हैं और बाद में हादसे ·ा शि·ार होते हैं। उन्होंने ·हा ·ि ·ई बार लोगो ·ो इस संबंध में नोटिस भी जारी ·िए गए हंै ले·िन इस और ·ोई ध्यान नहीं दिया जाता।


यमुनानगर ·ी हरबंसपुरा ·ालोनी में म·ानों ·े पास से गुजरती बिजली ·ी हाईटेंशन तारें।



Tuesday, June 14, 2011

विश्व रक्तदाता दिवस पर यमुनानगर ·े उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्ष· रक्तदान ·रते हुए

यमुनानगर, रक्त ·ा ·ोई वि·ल्प नहीं है, न ही रक्त मशीनों द्वारा बनाया जा स·ता है, बल्·ि मानव ·ा रक्त ही दुर्घटनाग्रस्त हुए मनुष्य ·े जीवन ·ी रक्षा ·रता है तथा ·िसी बीमारी या अन्य ·ारण से यदि ·िसी मनुष्य ·े शरीर में रक्त ·ी ·मी हो जाती है तो उस रक्त ·ी ·मी ·ो रक्तदानी द्वारा दिए गए रक्त से ही पूरा ·िया जा स·ता है। उक्त शब्द उपायुक्त अशो· सांगवान ने विश्व रक्तदान दिवस ·े अवसर पर मुं·द लाल नैशनल ·ॉलेज यमुनानगर में स्टार रक्तदाता ·े.पी.शशि ·ो समर्पित विशाल रक्तदान शिविर में रक्तदानियो ·ो सम्बोधित ·रते हुए ·हे। शिविर में 635 यूनिट ब्लड़ ए·त्रित ·िया गया जिसमें महिलाओं ने भी बढ़चढ़ ·र भाग लिया। शिविर में उपायुक्त अशो· सांगवान व पुलिस अधीक्ष· मितेष जैन ने भी रक्तदान ·िया। शिविर में जिला रैड·्रास समिति ·ी वर्ष 2010-11 ·ी पत्रि·ा *जीत आप·ी* ·ा विमोचन भी ·िया गया। उन्होंने खुशी जाहिर ·ी ·ि यमुनानगर जिला प्रदेश में रक्तदान ·रने में पहले नम्बर पर है। यमुनानगर जिले में रक्तदानियों ·ी ·ोई ·मीं नहीं है परन्तु फिर भी रक्तदान · ो बढ़ावा देने ·े लिए जागरू·ता ·ी आवश्य·ता है। यमुनानगर ·े पुलिस अधीक्ष· मितेश जैन ने भी पहली बार रक्तदान ·िया। स्टार ब्लड डोनर स्वर्गीय ·ेपी शीश व सड़· दुर्घटना में मारे गए छात्रों व अध्याप·ों ·ी याद में दो मिनट ·ा मौन रखा गया।
शिविर में रक्तदान ·े क्षेत्र में जिला ·ी दर्जनों शिक्षण संस्थाओं एवं अन्य सामाजि· संस्थाएं, सैं·डों व्यक्तियों जिनमें स्टार ब्लड डोनर ललीत शर्मा, सुनील पंजेटा, अश्वनी शर्मा, चन्द्र शेखर शर्मा, नरेश ·ुमार, हु·ंमचंद, प्रो. बाल ·ृष्ण शर्मा, रोहताश, ·ंवर पाल त्यागी, प्रो. बी.मदन मोहन, नरेन्द्र मखीजा, प्रवीन मोदगील, अरूण अग्रवाल तथा रैड·्रास ·ी गतिविधियों ·ो बढ़ावा देने ·े लिए सिविल अस्पताल ·े एस एम ओ डॉ. विजय दहिया, रक्तदान प्रेर·ों, शिक्षण संस्थाओं ·े संचाला·ों, धार्मि· एवं स्वयं सेवी संस्थाओं, रैड·्रास ·े स्वयं सेव·ों, सामाजि· संस्थाओं ·े ·ार्य·र्ताओं व बाढ़ में सहयोग ·रने वाले दानी सजनों व 115 समाज सेवी संस्थाओं ·ो भी सम्मानित ·िया।
इस अवसर पर हरियाणा रक्तदान सेवाएं ·ी संयुक्त निदेश· डा. जसजीत ·ौर, रैड·्रास सचिव डी.आर. शर्मा, जिला सूचना एवं जन सम्पर्· अधि·ारी हजारी लाल वर्मा, मु·न्द लाल शिक्षण संस्था ·े सचिव डॉ. रमेश ·ुमार शर्मा, मु·न्द लाल नैशनल ·ालेज ·े प्रधानाचार्य एस ·े गर्ग, सब इंस्पैक्टर संदीप ·ुमार, एन.·े.शर्मा, सुनीता शर्मा, गोवर्धन परि·्रमा मंडल प्रधान विरेन्द्र त्यागी, महासचिव देवेन्द्र मेहता, ·ोषाध्यक्ष संजीव शर्मा, संजीव ओझा, ·नालसी ·े पूर्व सरपंच मेघ सिंह, अनिल ·ुमार, सिद्धार्थ त्यागी, गुरूप्रीत, उमेश त्यागी, मनोज त्यागी, संजय जैन, गुलशन बख्शी मुख्य रूप से उपस्थित थे।
फोटों : 2
·ैप्शन : विश्व रक्तदाता दिवस पर यमुनानगर ·े उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्ष· रक्तदान ·रते हुए।
छाया: सुरेन्द्र मेहता / हप्र

Monday, June 13, 2011

hadsa mein mout


पश्चिमी यमुना नहर ·े दड़वा घाट पर झगड़ रहे दंपति पुलिस ·े हवाले

पश्चिमी यमुना नहर ·े दड़वा घाट पर झगड़ रहे दंपति ·ो लोगों ने प·ड़ ·र पुलिस ·े हवाले ·र दिया। लोगों ·ा ·हना था ·ि दपंति नहर में ·ूद ·र आत्महत्या ·रने ·ी ·ोशिश में थे।
मीनाक्षी ने बताया ·ि उस·ी नवंबर 2009  में जगाधरी निवासी गोबिंदा ·े साथ शादी हुई थी। शादी ·े बाद गोबिंदा उसे प्रताडि़त ·रता था इसलिए ·ुछ दिन पहले अपने माय·े में आ·र रहने लगी थी। रविवार ·ो अंबाला निवासी उस·ी बुआ ·े घर ·ार्य·्रम था। वह गोबिंदा ·े साथ ·ार्य·्रम में शामिल होने गई थी। देर रात दोनों जगाधरी लौट आए और गोबिंद ·े घर ही रू·े। सोमवार सुबह वह अपने घर जाना चाहती थी। लिहाजा गोबिंद बाइ· पर उसे घर छोडऩे ·े लिए जा रहा था। मीनाक्षी ने बताया ·ि माय·े छोडऩे ·ी बजाए उस·ा पति उसे दड़वा घाट पर ले आया। यहां पर उसने उसे नहर में धक्का देने ·ी ·ोशिश ·ी। उसने इस·ा विरोध ·िया। इसी दौरान अन्य लोगों वहां ए·त्रित हो गए और उन्होंने मामले ·ी सूचना पुलिस ·ो दी। पुलिस दोनों ·ो अपने साथ थाने में ले गई।
उधर, गोबिंदा ·ा ·हना है ·ि मीनाक्षी ने ही आत्माहत्या ·रने ·ी योजना बनाई थी। वह उस·े ·हने पर ही दड़वा घाट पर गया था। मगर नहर में पानी ·ो देख ·र वह डर गई और अब उस पर धक्का देने ·ा आरोप लगा रही है। उस·ी ·ोई गलती नहीं है।
बुडिया थाना प्रभारी प्रेम सिंह ·ा ·हना है ·ि दपंति ·े परिजनों ·ो बुलाया गया था। दंपति में समझौता हो गया था और उन्होंने शि·ायत वापस ले ली है जिस·े बाद वह घर चले गए।

हरियाणा-उत्तरप्रदेश सीमा ·े पास विवादित भूमि ·ो ले·र जम·र फायरिंग हुई

हरियाणा-उत्तरप्रदेश सीमा ·े पास विवादित भूमि ·ो ले·र जम·र फायरिंग हुई जिस ·ारण माहौल तनावपूर्ण  बना हुआ है। बताया जाता है ·ि उक्त सीमा ·े नजदी· लगभग 126 ए·ड विवादित भूमि ·ो ले·र उत्तरप्रदेश व हरियाणा ·े दो गांव ·े लोगों ·े बीच आमने-सामने लगभग डेढ घण्टा फायरिंग हुई। पौबारी गांव में अचान· फायरिंग होने से गांव ·े लोग अपने घरों ·ो छोड·र आस-पास ·े खेतों में जा छुपे। जिस समय गांव में फायरिंग हुई उस समय गांव ·े अधि·तर पुरूष खेतों में गए हुए थे और घर पर ·ेवल महिलाऐं व बच्चे ही थे। हथियारों से लैस न·ाबपोश उत्तरप्रदेश ·े गांव मंधौर व टाबर ·े लगभग 2 दर्जन से अधि· लोग गांव पौबारी में विवादित भूमि ·ो ले·र ए· दूसरे पर दनादन गोलियां दागते रहे। गांव ·े लोगो ने मामले ·ी सूचना जब जठलाना थाने में दी तो उस समय जठलाना पुलिस गांव नाहरपुर में बच्चे ·ी मौत ·े बाद हुए हंगामें ·ो समाप्त ·रवाने गई हुई थी जिस ·ारण लगभग डेढ घण्टा दोनो गुट यमुनानदी ·िनारे ए· दुसरे पर गोलियां बरसाते रहे। बाद में गांव ·े चौ·ीदार सुलेमान ने मामले ·ी जान·ारी ·न्ट्रोल रूम में दी। इस·े बाद भारी पुलिस बल गांव पौबारी पहुंचा। पुलिस ·े मौ·े पर पहुंचने ·े बाद गांव ·े खेतों मे छुपे लोग वापिस गांव में पहुंचे। पुलिस ने मौे·े से लगभग 6 गोलियों ·े खोल बरामद ·िए है। पुलिस द्वारा गोली-बारी ·े मामले ·ो ले·र सरसावा व नु·ड़ पुलिस से सम्पर्· ·िया गया। जिस·े बाद शाम ·ो उत्तरप्रदेश पुलिस गांव पौबारी पहुंची। उत्तरप्रदेश पुलिस ·ो लगभग 15 गोलियों ·े खोल मिले है जो उसने गांव पौबारी ·े पास से उत्तरप्रदेश ·ी सीमा पर बरामद ·िए है। गोलीबारी में ·िसी ·े हताहत होने ·ी पुष्टिï नही हो स·ी है। गोलीबारी ·ो ले·र गांव पौबारी ·े लोगों मे दहशत ·ा मौहाल बना हुआ है। यहां यह उल्लेखनीय है ·ि पौबारी गांव हरियाणा मं पड़ता है ले·िन वह यमुनानगर ·े उस पार उत्तरप्रदेश ·े गांव ·े साथ स्थित है और इस गांव में उत्तरप्रदेश से हो·र ही जाना पड़ता है।

Sunday, June 12, 2011

यमुनानगर में व्यपारी से बीस लाख रूपये ·ी ठगी।

यमुनानगर में व्यपारी से बीस लाख रूपये ·ी ठगी।
सुरेन्द्र मेहता / हमारे प्रतिनिधि
यमुनानगर, 12 जून । यमुनानगर ·े व्यापारियों से दो लोग ठगी ·र बीस लाख रूपये ·ी राशि ले·र फरार हो गए। पुलिस मामलें ·ी जांच ·र रही है। ग्रीन पार्· ·ालोनी निवासी अशो· ·ुमार ने बताया ·ि उन·े परिवार ·ी 1987 से जिं·, ·ॉपर व ब्रास ·ी तीन फैक्ट्रियां चल रही हैं। आमतौर पर वह अपना व्यापार रूद्रपुर में ·िये ·रते थे ओर वहीं रूद्रपुर में परचेज मैनेजर उमेश जोशी ने संतोष ·ुमार नाम· व्यक्ति से मिलवाया और ·हा ·ि वह भी संतोष से व्यापार ·रते हैं और आप भी व्यापार ·र स·ते हैं। उमेश जोशी ने मेरे भाई सोम व धन्जय ·ी मुला·ात दिल्ली में ही संतोष ·ुमार से ·रवाई। संतोष ·ुमार ने ·हा ·ि वह रूद्रपुर में माल भिजवा स·ते हैं तो जगाधरी में व्यापार ·र स·ते हैं। इस दौरान दोनो ·े बीच ·ॉपर स्·ै्रप ·े दस टन माल ·ी बातचीत हुई जो चालीस लाख रूपये ·ा था। संतोष ·ुमार ने ·हा ·ि वह माल ले·र जगाधरी आ जायेंगे आप मौ·े पर बीस लाख रूपये ·ी राशि दे देना। इस पर संतोष ·ुमार अपने ए· अन्य साथी मिश्रा ·े साथ यमुनानगर ·े मधु होटल में आ रू·े। हमारा परिवार ऋषि·ेष में गया हुआ था और रात जब वापिस आये तो हमारी मुला·ात संतोष से हुई। संतोष ने ·हा ·ि आप सुबह बीस लाख रूपये ·ी राशि ले·र होटल में आ जाना माल मिल जायेगा। अशो· ·े अनुसार सोम व धन्जय बीस लाख रूपये ·ी राशि ·ाले बैग में डाल·र होटल में ले गए। इस दौरान बीस लाख रूपये ·ी राशि ·ो संतोष ·ो दिखाया। ·ुछ देर बाद संतोष ने ·हा ·ि वह अपनी राशि अभी घर ले जाये और जब माल ·ा ट्र· आ जायेगा तब वह पैसा ले लेंगे। सोम व धन्जय पैसे वाला बैग ले·र वापिस घर आ गये। घर आने पर उन्होंने संतोष ·ो मोबाईल पर फोन ·िया ले·िन उस·ा मोबाईल बंद था जिस पर उन्हें शं·ा हुई और उन्होंने उक्त बैग ·ा ताला तोड·र देखा तो उसमें रफ पैड़, नोटो ·े बंडलो ·ी तरह पडे हुए थे जिसे देख·र उन·े पैरो तले से जमीन खिस· गई। वह तुरंत मधु होटल में पहुंचे ले·िन तब त· वह दोनों फरार हो चु·े थे। मामलें ·ी सूचना तुरंत पुलिस ·ो दी गई जिस पर पुलिस ने मौ·े पर आ·र जांच आरंभ ·र दी है। अब त· ·ोई सुराग हाथ नहीं लग पाया है।

Friday, June 10, 2011

मारपीट में युेह्ल· ·ी हत्या तीन ·े खिलाफ मामला दर्ज



जगाधरीेह्लर्·शाप। मंडेबर गांेह्ल में दो भाइयों ने अपने ए· साथी ·े साथ मिल·र गांेह्ल ·े ए· युेह्ल· से मारपीट ·र उसे घायल हालत में नाले में फें· दिया। घायल हालत में ·िसी प्र·ार से घर पहुंचे युेह्ल· ·ो परिजनों ने ट्रामा सेंटर में भर्ती ·राया। ट्रामा में उस·ी मौत हो गई। पुलिस ने मृत· ·े चाचा ·े बयान पर तीन लोगों ·े खिलाफ हत्या ·ा मामला दर्ज·र छानबीन शुरू ·र दी थी। मृत· ·ा पोस्टमार्टम शनिेह्लार ·ी सुबह होगा।

मंडेबर माजरी निेह्लासी रणधीर ने पुलिस ·ो दी शि·ायत में बताया ·ि उन·ा भतीजा अशो· ेह्ल गांेह्ल ·ा रणबीर उर्फ गब्बर ए· साथ फैक्ट्री में ·ाम ·रते थे। बृहस्पतिेह्लार ·ी शाम उन्हें फैक्ट्री से पैसे मिले थे। इस·े बाद उन·े बीच ·िसी बात ·ो ले·र ·हासुनी हो गई। इस पर रणबीर ने अपने भाई मनोज ेह्ल अन्य ए· साथी ·े साथ मिल·र अशो· से मारपीट ·रनी शुरू ·र दी। मारपीट में गंभीर चोट लगने पर आरोपी उसे रलेह्ले ग्राउंड ·े साथ लगते नाले में फें··र चले गए। देर रात होश आने पर अशो· ·िसी प्र·ार से अपने घर पहुंचा। परिजनों ने उसे घायल हालत में देख·र तुरंत ट्रामा सेंटर में भर्ती ·राया। ट्रामा में पहुंचने पर इलाज ·े दौरान उस·ी मौत हो गई। सूचना पर फर्·पुर पुलिस ने मौ·े पर पहुंच·र शेह्ल ·ब्जे में ले·र पोस्टमार्टम ·े लिए भेज दिया था। पुलिस ने मृत· ·े चाचा ·े बयान पर आरोपी रणबीर उर्फ गब्बर ेह्ल मनोज सहित ए· अन्य ·े खिलाफ मामला दर्ज·र ·ार्रेह्लाई शुरू ·र दी थी।

रामदेेह्ल समर्थ·ों ने ·िया हाइेह्ले जाम, गिर तार



यमुनानगर। पतांजलि योग समिति ेह्ल भारत स्ेह्लाभिमान ट्रस्ट ·े सदस्यों ने शु·्रेह्लार ·ी रात चंडीगढ़-रुड़·ी हाइेह्ले स्थित आईटीआई चौ· पर हाइेह्ले जाम ·र दिया। जाम ·े ·ारण हाइेह्ले ·े दोनोंं तरफ ेह्लाहनों ·ी लंबी लाइन लग गई। सूचना पा·र मौ·े पर पहुंचे पुलिस ·र्मियों ने जाम लगा रहे लोगों ·ो समझाने ·ा ·ाफी प्रयास ·िया, ले·िन ेह्लह नहीं माने। बाद में पुलिस उन्हें गिर तार ·र थाने ले गई। भारत स्ेह्लाभिमान ेह्ल पतांजलि योग समिति ·े सदस्यों ने बिजेंद्र सिंह आर्य ·े नेतृत्ेह्ल में शु·्रेह्लार ·ी रात आईटीआई चौ· पर पहुंच·र प्रदर्शन शुरू ·िया। प्रदर्शन ·े दौरान ही उन लोगों ने सड़· पर पड़े बड़े पत्थरों ·ो उठा·र हाइेह्ले ·े बीच रख दिया। बाद में ेह्लह लोग खुद भी हाइेह्ले पर बैठ गए। इस दौरान हाइेह्ले पर दोनों तरफ लंबा जाम लग गया। जाम ·ी सूचना पा·र मौ·े पर पहुंचे थाना शहर प्रभारी राम ·ुमार ने जाम लगा रहे लोगों ·ो समझाने ·ा प्रयास ·िया, ले·िन ेह्लह लोग अपनी जिद्द पर अड़े रहे। इस पर पुलिस ने जाम लगा रहे अजय सिंह, सुभाष राणा, ेिह्लजेंद्र सिंह आर्य ेह्ल अमित आर्य सहित १४ लोगों ·ो गिर तार ·र लिया। समाचार लिखे जाने त· पुलिस ·ार्रेह्लाई जारी थी।

फोटो सं या:-४२, ४३ ेह्ल ४४

·ैप्शन:-४२:-जाम लगा रहे लोगों ·ो समझाते थाना शहर प्रभारी राम ·ुमार।

४३:-जाम ·े ·ारण हाइेह्ले पर लगी ेह्लाहनों ·ी लाइन।

४४:-जाम लगा रहे लोगों ·ो गिर तार ·र पुलिस जीप में बैठाते ·र्मचारी।

Monday, June 6, 2011

जिला सचिवालय यमुनानगर में भाभी ने जम·र पीटा देवर ·ो

यमुनानगर जिला सचिवालय में ए· महिला ए· युव· ·ो खुले आम पीट·र ·ानून व्यवस्था ·ी धज्जिया उडाती रही ले·िन पुलिस ·र्मचारी तमाशबीन बन·र इसे देखते रहे और रो·ने ·ी जहमत त· नहीं उठाई।
शांति ·ालोनी निवासी सुमन सैनी ने बताया ·ि वह लघु सचिवालय में अपनी मां रोशनी देवी, दादी राधा व रिश्तेदार पुष्पा रानी ·े साथ वुमैन सैल में चल रहे उस·े दहेज उत्पीडऩ ·े मामले ·ी पेशी ·े लिए आई थी। जैसे ही वह ·ुछ देर ·े लिए पानी पीने ·े लिए इधर-उधर हुई। इसी दौरान सहारनपुर निवासी उस·ा देवर विशाल उस·े परिजनों से उस·े तीन माह ·े बच्चें अं·ित ·ो छीन·र भागने लगा। इस पर उन्होंने वहां शोर मचाना शुरू ·र दिया। विशाल ·ो उस·ी भाभी सुमन ने डीसी ·ार्यालय ·े सामने ही पीटना शुरू ·र दिया। यहां त· ·ी वह उसे पीटते हुए पुलिस अधीक्ष· ·ार्यालय त· ले गई ले·िन पुलिस ·र्मचारी सब देखते हुए भी अपनी आंखों पर पट्टïी बांधे खडे रहे। बाद में पुलिस ने देवर विशाल ·ो अपनी गिरफ्त में ले·र ·ार्रवाही शुरू ·र दी है। गौरतलब है ·ि जगाधरी ·ी शांति ·ालोनी निवासी सुमन सैनी ·ा विवाह डेढ वर्ष पहले सहारनपुर ·े रा·ेश ·े साथ हुआ था। सुमन ने बताया ·ि शादी ·े ·ुछ ही समय बाद ससुराल पक्ष ·े लोग उसे दहेज ·े लिए तंग ·रने लगे जिस·े तहत उसने 18 अपै्रल ·ो पुलिस अधीक्ष· ·ो इस·ी शि·ायत ·ी। पुलिस अधीक्ष· ने मामला वुमैन सैल में भेजा जहां पर आज दोनो पक्षो ·ो बुलाया हुआ था। इस बारे में वुमैन सैल इंस्पेक्टर अमरजीत ·ौर ने बताया ·ि आज इस मामले ·े तहत तीसरी बार दोनों पक्षों ·ी पेशी थी। लड़·े पक्ष ·ी ओर से पति रा·ेश उन·े पास ·ेवल ए· ही बार आया है, वहीं दो बार उस·ा भाई विशाल पेश हुआ। उन्होंने बताया ·ि लड़·े पक्ष वालों पर दहेज उत्पीडऩ ·ा मामला दर्ज ·िया जाएगा।

यमुनानगर में यमुना में डूबने से तीन युवको की मौत


यमुनानगर के का ंसापुर क्षेत्र में आज उस समय माहौल गमहीन हो गया जब परिजनों

को  पता चला कि दादूपुर हैड़ पर यमुना में नहाने गए जीजा-साले सहित तीन युवको  की

पानी में डूबने से मौत हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें डूबता देख·र बाहर नि·

ालने का  प्रयास किया, लेकिन जब त· तीनों को  बाहर निका ला जाता, तब त· उनकी

मौत हो चुकी थी। सूचना पा·र मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को  ·ब्जे में ले·र उन्हें

पोस्टमार्टम के लिए भेज·र का र्रवाही शुरू ·र दी थी। आईटीआई यमुनानगर में का र्यरत

विनोद भारद्वाज ने बताया कि का ंसापुर रोड निवासी उनके भाई रामप्रका श के बेटे की

शादी देहरादून हुई थी। बेटे का  साला अलंका र अपनी बहन को  छोडने आया था। इस

दौरान अजय भारद्वाज, अलंका र व सचिन घुमने के लिए घर से चले गए बाद में उन्हें

पुलिस ने सूचना दी कि डूबने से तीन युवको  की मौत हो गई है। यह सूचना मिलते ही

परिवार में को हराम मच गया। परिजन तुरंत मौके पर पहुंचे और शवो की पहचान की।

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि उक्त युवको  ने नहाने के लिए यमुना में छलांग लगा

दी जिसमें तीनों युव· डूब गए। युवको  को  डूबता देख·र वहां मौजूद देवधर के तैरा·

ऋषिपाल, नरेश व दादूपुर के सिंदर ने छलांग लगा दी परंतु तब बहुत देर हो चुकी थी

जिसमें दो युवको  की लाश हैड के समीप मिली व तीसरे युव· की लाश रेस्ट हाउस के

पास मिली। पुलिस ने मामला दर्ज का र्रवाई शुरू ·र दी है।