Sunday, May 15, 2011

जठलाना में हुई एससी समुदाय की महापंचायत

रादौर के गांव बरहेड़ी के भूमि विवाद को लेकर जठलाना में हुई एससी समुदाय
की महापंचायत राजनीतिक रंग में रंगी नजर आई। बीएसपी पार्टी के नेता रविवार को
खुलकर मंच पर बोले। हालांकि पहले ही साफ था कि मामले में बीएसपी के नेता हस्तक्षेप

कर रहे है। लेकिन रविवार को हुई महापंचायत से स्थिति आईने की तरह साफ कर दी। महापंचायत पर बीएसपी का रंग चढ़ता देखकर अन्य पार्टियों के दलित नेता महापंचायत से कन्नी काटते नजर आए और महापंचायत को बीच में ही छोड़ कर चले गए। महापंचायत में एससी समुदाय के हितों के लिए मिलकर लड़ाई लडने की बात तो कही गई लेकिन सारी बाते बीएसपी नेताओं के माध्यम से ही की गई। जिससे बरहेड़ी विवाद अब एक नये रंग में रंगा नजर आएगा। महापंचायत में सरकार व प्रशासन को खुली चुनौती दी गई। महापंचायत में पहुंचे एससी समुदाय व बीएसपी पार्टी के नेताओं ने गांव बरहेड़ी के एससी समुदाय के लोगों को न्याय दिलाने की बात मंच से कही। पंचायत में निर्णय लिया गया कि गांव बरहेड़ी की दो कनाल विवादित भूमि पर हर कीमत पर अम्बेडक़र भवन बनाया जाएगा। रविवार को पूरा दिन जठलाना क्षेत्र पुलिस छावनी में तबदील रहा। वहीं बरहेड़ी विवाद को लेकर गाव के लोग बसपा प्रदेश प्रभारी व उत्तरप्रदेश सांसद राजाराम से 12 मई को यमुनानगर में मिलेगें और उन्हें मामले से अवगत करवाया जाएगा। बसपा पार्टी की ओर से बरहेड़ी विवाद को सांसद राजाराम के माध्यम से लोकसभा में उठाया जाएगा। मामले का जल्द समाधान न होने पर बसपा पार्टी बरहेडी विवाद को लेकर प्रदेश के हर जिले में आंदोलन करेगी।

No comments:

Post a Comment